Admission - एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों में 1500 विद्यार्थियों को मिलेगा प्रवेश : आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 20 मार्च तथा 8 अप्रैल को होगी प्रवेश परीक्षा

Advertisement
एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों में कक्षा 6वीं में प्रवेश परीक्षा के माध्यम से शैक्षणिक सत्र 2018-19 में प्रवेश दिया जाना है। इन विद्यालयों में 870 बालकों तथा 630 बालिकाओं को प्रवेश का मौका मिलेगा। प्रवेश परीक्षा हेतु आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 20 मार्च 2018 निर्धारित की गई है। इस आशय का परिपत्र प्रदेश के सभी संबंधित जिला कलेक्टरों को कार्यालय आयुक्त, छत्तीसगढ़ राज्य स्तरीय आदिम जाति कल्याण आवासीय एवं आश्रम शैक्षणिक संस्थान समिति, इंद्रावती भवन नया रायपुर से जारी कर दिया गया है। 

नये शैक्षणिक सत्र 2018-19 में प्रति विद्यालय अनुसूचित जनजाति वर्ग के 60 विद्यार्थियों को 6वीं में प्रवेश हेतु चयन परीक्षा का आयोजन कर प्रावीण्यता के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा। प्रवेश परीक्षा हेतु आवेदन पत्र जिलों के कार्यालय सहायक आयुक्त, आदिवासी विकास विभाग, संबंधित एकलव्य आदर्श विद्यालय के प्राचार्य से निःशुल्क प्राप्त कर सकते हैं तथा विभागीय वेबसाइट www.tribal.cg.gov.in से (डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट ट्रायबल डॉट सीजीडॉटजीओव्ही डॉट इन) डाउनलोड किया जा सकता है।

eklavya jobskind के लिए इमेज परिणाम

संविधान के अनुच्छेद 275 (1) के अंतर्गत भारत सरकार के जनजातीय कार्य मंत्रालय नई दिल्ली के सहयोग से वर्तमान के प्रदेश के 24 जिलों में 25 एकलव्य आदर्श विद्यालय संचालित है। इन विद्यालयों में छह बालक एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय है, जिसमें जिला बस्तर के करपावण्ड, कांकेर जिले के अंतागढ़, सरगुजा जिले के मैनपाट, सूरजपुर जिले के शिवप्रसाद नगर, रायगढ़ जिले के मुढ़पार तथा जिला कबीरधाम के तरेगांव शामिल है, वहीं दो कन्या एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय दंतेवाड़ा जिले के कटेकल्याण और जशपुर जिले के सन्ना शामिल है।

Eklavya Aadarsh Vidyalaya Admission Notice 2018


इसी प्रकार 17 संयुक्त एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय जिन स्थानों पर संचालित किए जा रहे हैं, उनमें पेंड्री (जिला-राजनांदगांव), पोडीडीह (जिला-कोरिया) भैरमगढ़ (जिला-बीजापुर), छुरीकला (जिला कोरबा), बेसोली (जिला बस्तर), मर्दापाल (जिला कोण्डागांव), मरवाही (जिला बिलासपुर), नगरी (जिला धमतरी), डौंडीलोहारा (जिला बालोद), नारायणपुर, बलौदाबाजार, बलरामपुर, सुकमा, गरियाबंद, महासमुंद, मुंगेली तथा जांजगीर-चांपा शामिल है।

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड रायपुर से संबंद्ध इन आवासीय विद्यालयों में प्रदेश के अनुसूचित जनजाति वर्ग के बालक-बालिकाओं हेतु कक्षा 6वीं से 12वीं तक हिन्दी माध्यम से निःशुल्क अध्ययन की सुविधा है।
Advertisement

Advertisement
नोट (Note) –
सभी उम्मीदवारों से अनुरोध है कि वे उपयुक्त पद के लिए पात्रता संबधी निर्देशों का अवलोकन भली-भांति कर लें एवं किसी भी विज्ञापन पर आवेदन करने से पहले अपने समझ से काम लेवें। कृपया सटिक एवं अधिक जानकारी के लिए विभागीय नोटिफिकेशन या विज्ञापन देखें। किसी भी स्थिति में विभागीय विज्ञापन में दिये गये निर्देश ही सही माने जावेंगे।

‘‘विस्तृत विज्ञापन डाउनलोड करने के लिए उपर दिये गये बाहरी लिंक (External Link) पर क्लिक करें अथवा विभागीय वेबसाइट पर जायें।’’

निवेदन (Request) -
आप सभी से निवेदन है कि इस Job Link को अपने अधिक से अधिक दोस्तों एवं वाट्स एप गुप तथा अन्य सोशल नेटवर्क जो भी आप प्रयोग करते हों में शेयर करें और एक अच्छा रोजगार पाने में उनकी मदद करें।

Loading...
Advertisement

Loading...